केरल से 100 किमी दूर है मानसून
इस बार धमाकेदार एंट्री की संभावना कम

मानसून 31 मई या उससे पहले केरल में दस्तक दे सकता है। अब तक मानसून की उत्तरी सीमा मालदीव, दक्षिण-पश्चिम अरब सागर, दक्षिणी बंगाल की खाड़ी तक पहुंच गई है। केरल के तिरुवनंतपुरम तट से मानसून अब 100 किमी दूर है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले दो दिन में मानसून केरल की ओर बढ़ने व लक्षद्वीप तक पहुंचने की उम्मीद है। विभाग ने पहले कहा था कि मानसून 27 मई को केरल में दस्तक दे सकता है। वहीं, निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट ने मानसून के दस्तक की तारीख 26 मई बताई थी। अब मौसम विभाग का कहना है कि 31 मई या उससे पहले मानसून दस्तक दे सकता है। बदली परिस्थितियों में स्काईमेट ने कहा है कि मानसून सामान्य रहेगा, लेकिन धमाकेदार दस्तक की संभावना कम है।
मौसम विज्ञानियों का कहना है कि देश के बाकी हिस्सों में भी मानसून तय तारीख से तीन से चार दिन पहले या बाद में पहुंचेगा। बंगाल की खाड़ी में असानी तूफान आने के बाद इस बार अंडमान-नीकोबार द्वीप समूह में मानसून तय तिथि 22 मई से एक हफ्ते पहले 15 मई को पहुंच गया।
सीएसए के मौसम विभाग के प्रभारी डॉ. एसएन सुनील पांडेय ने कहा कि हर साल की तरह इस बार भी बारिश होगी, लेकिन बारिश के दिन कम होंगे। उन्होंने कहा कि पहले बारिश 50-60 दिन होती थी। अब 35-40 दिन ही हो रही है। अब दिन में ही बहुत अधिक बारिश हो जाती है।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *