दहेज के दो लाख न मिलने पर नहीं आई बारात
हांथों में मेहंदी सजाए बैठी रही दुल्हन
लड़के पक्ष के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

कानपुर देहात के सिकंदरा में हाथों में मेहंदी लगाए और आंखों में कई सपने संजोए युवती घंटों तक दूल्हे और बरात का इंतजार करती रही, मगर न तो दूल्हा पहुंचा और न ही बराती… परिवार के लोगों पर भी एक-एक पल भारी पड़ रहा था… दुल्हन पक्ष के लोगों ने काफी मिन्नतें कीं, लेकिन दहेज के लोभियों ने बारात लाने से साफ इनकार कर दिया…..पूरा मामला सिकंदरा थाना क्षेत्र के रसधान कस्बे से है…जहां बरात आने की तमाम तैयारियों में मशरूफ और खुशी के माहौल में इस परिवार के अरमानों पर उस समय पानी फिर गया और साथ ही बेटी के हाथों में मेहंदी लगवाने का पिता का सपना भी टूट गया…दरअसल 10 मई को हनुमंत नगर फतेहाबाद का रहने वाला युवक राम लखन राजपूत पुत्र रामसनेही राजपूत से बीते मंगलवार की रात को शादी होनी थी….लेकिन दहेज लोभी रामसनेही दहेज की अतिरिक्त मांग लेकर बारात लेकर लड़की के घर नहीं आया…… लड़की के पिता ने बताया कि बीती 7 तारीख को तिलक चढ़ा या था……जिसमें लड़के को साढ़े चार लाख रुपए नगद दिये थे…वही दहेज के लालची लड़के के परिवार की तरफ से द्वारचार पर 50 हजार और देने की बात तय हुई थी…. लेकिन बीते मंगलवार की शाम को लड़के पक्ष द्वारा फोन कर ₹2 लाख रुपए अतिरिक्त की मांग करके बारात लाने से मना कर दिया गया….जिसके बाद इस परिवार में मातम का माहौल हो गया…जिसके बाद लड़की वालों ने तमाम मिन्नते लड़के वालों से की….. लेकिन लड़के वालों ने बारात ना लाने की बात कहकर फोन काट दिया…जिसके बाद दुल्हन के पिता ने थक हार कर पुलिस का सहारा लिया और पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी है….. वही मामले की जानकारी जब एसडीएम सिकंदरा महेंद्र कुमार को हुई तो मौके पर पहुंचकर एसडीएम सिकंदरा ने लड़की पक्ष से मामले की पूर्ण जानकारी ली….और लड़के पक्ष के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराकर पीड़ित को इंसाफ दिलाने का आश्वासन दिया….

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *