रामलला के ससुराल के मेवे से लगेगा पहला भोग, ननिहाल से 3000 कुंतल चावल अयोध्‍या पहुंचेगा

रामलला के ससुराल के मेवे से लगेगा पहला भोग,

Ayodhya Ram Mandir : अयोध्‍या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्‍ठा को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं. 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्‍ठा होनी है. प्राण प्रतिष्‍ठा कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होंगे. इतना ही नहीं रामलला के स्‍थापित होने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ही पहली आरती उतारेंगे. प्राण प्रतिष्‍ठा के बाद रामलला ननिहाल के चावल और ससुराल के मेवा का पहला भोग लगेगा. इसके लिए भगवान राम के ननिहाल छत्‍तीसगढ़ से 3000 कुंतल चावल अयोध्‍या लाया जा रहा है.

3000 कुंतल चावल अयोध्‍या लाया जा रहा 
रामलला के ससुराल नेपाल के जनकपुर से वस्‍त, फल और मेवा लाया जा रहा है. प्राण प्रतिष्‍ठा से पहले रामलला को भोग लगाने के लिए ये चीजें पहले ही अयोध्‍या पहुंच जाएंगी. बताया गया कि छत्‍तीसगढ़ के 33 जिलों से 3000 कुंतल चावल एकत्रित किया गया है. 30 दिसंबर तक यह चावल अयोध्‍या मंदिर समित के पास पहुंच जाएगा.

कब होनी है प्राण प्रतिष्‍ठा 
काशी के ज्‍योतिषाचार्य गणेश्‍वर शास्‍त्री द्रव‍िड के मुताबिक, 22 जनवरी को दोपहर 12 बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से लेकर 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड तक शुभ मुहूर्त है. उन्‍होंने बताया कि इस समय अलग-अलग राशियों का सकारात्मक प्रभाव पड़ने की वजह से लोग निरोगी और जीवन में उन्नति प्राप्त कर सकेंगे. गुरु राशि मेष राशि और शनि राशि प्रमुख तौर पर है. जिनका लोगों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

17-22 जनवरी तक क्या-क्या होगा? 
रामलला के प्राण प्रतिष्‍ठा समाराहे की शुरुआत 17 जनवरी से शुरू हो जाएगी. 17 जनवरी को रामलला की अचल मूर्ति की भव्य शोभा यात्रा निकालकर राम जन्म भूमि परिसर में स्थापित की जाएगी. इसके बाद 18 जनवरी से पूजन-अर्चन अनुष्ठान की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा कर अनुष्ठान की पूर्णाहुति होगी. 22 जनवरी को मृगशिरा नक्षत्र में दिन 12:20 के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होगी. 12:30 बजे प्रधानमंत्री मोदी रामलला की पहली आरती उतारेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *